एसिडिटी दूर करने का उपाय | ऍसिडिटी के लिये उपाय | Acidity Dur Karne Ka Upay

एसिडिटी का आयुर्वेदिक उपचार, गैस, एसिडिटी कब्ज उपचार

एसिडिटी दूर करने का उपाय
एसिडिटी दूर करने का उपाय

क्या आपको पता है एसिडिटी दूर करने का उपाय क्या है और इसका उपयोग कैसे करते है नहीं पता है तो आप सही जगह पे आये हो मै आपको एसिडिटी दूर करने का घरेलु उपाय बताने जा रहा हु जिसके मदत  एसिडिटी को दूर कर सकते हो चलो शुरुवात करते है एसिडिटी दूर करने का उपाय आर्टिकल को पढ़ने की

हम सब वहाँ रहे हैं - कुछ अतिरिक्त मसालेदार भोजन के साथ भारी भोजन का आनंद ले रहे हैं, केवल बाद में हमारे सीने में जलन हो रही है। जी हां, यह जलन, जिसे एसिडिटी के नाम से जाना जाता है, एक बहुत ही आम समस्या है इस लिए हमने आपके लिए एसिडिटी दूर करने का उपाय लाया है।

भोजन को पचाने के लिए हमारे पेट की जठर ग्रंथियां अम्ल का स्राव करती हैं। हालांकि, जब ये गैस्ट्रिक ग्रंथियां अतिरिक्त एसिड का स्राव करती हैं, तो हमें अम्लता का अनुभव होता है।

एसिडिटी के सामान्य लक्षण एसिड रिफ्लक्स के रूप में भी जाना जाता है, एसिडिटी विभिन्न कारकों के कारण हो सकती है जैसे अनियमित खाने की आदतें, मसालेदार भोजन का अधिक सेवन, नियमित धूम्रपान या शराब का सेवन। नाराज़गी, एक दर्दनाक

सीने या गले में जलन, एसिडिटी का सबसे आम लक्षण है। इसके अलावा, निगलने में कठिनाई, बार-बार डकार आना, हिचकी आना या अपच एसिडिटी के अन्य लक्षण हैं।


यह कभी-कभी थोड़ा निराश करने वाला हो सकता है, क्योंकि यह आपको अपने भोजन का आनंद लेने से रोकता है और बहुत सी असुविधाओं का कारण भी बनता है। तो, यहां 20 सरल और प्रभावी घरेलू उपचार दिए गए हैं जो आपको एसिडिटी से राहत दिलाने में मदद करेंगे।

आपके द्वारा पूछे जाने वाले सवाल
  • एसिडिटी हो जाए तो क्या करें?
  • एसिडिटी का परमानेंट इलाज क्या है?
  • एसिडिटी को जड़ से खत्म कैसे करें?
  • एसिडिटी होने पर क्या करें घरेलू उपाय?

एसिडिटी दूर करने का उपाय | Acidity Ke Liye Gharelu Upay in Hindi


1. एसिडिटी दूर करने का उपाय ठंडा दूध पिएं

एसिडिटी के घरेलू उपाय यह एसिडिटी के लिए सबसे आसान घरेलू उपचारों में से एक है। एक गिलास ठंडा दूध आपको एसिडिटी से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। चूंकि यह कैल्शियम से भरपूर होता है, इसलिए यह आपके पेट में एसिडिक बिल्डअप को भी रोक सकता है।


2. एसिडिटी दूर करने का उपाय नारियल पानी दिल की जलन से राहत

रोजाना 2 गिलास नारियल पानी पीने से आपको सीने में जलन से राहत मिल सकती है। फाइबर से भरपूर, यह आपके पाचन तंत्र को शांत करने में मदद करता है। साथ ही, यह आपके पेट को अतिरिक्त एसिड उत्पादन के प्रभाव से बचा सकता है।

इसे भी पढ़ लीजिए: Doodh Aur Kela Khane Ke Fayde in Hindi

3. एसिडिटी दूर करने का उपाय कच्चा प्याज खाने से बचें

एसिडिटी से राहत कच्चे प्याज में किण्वित फाइबर होता है। इसलिए, कच्चे प्याज वाले भोजन करने से आमतौर पर व्यक्तियों में अम्लता बढ़ जाती है। (Acidity Gas Ke Liye Gharelu Nuskhe) यह अन्नप्रणाली के साथ जलन पैदा करता है जिससे नाराज़गी भी बढ़ जाती है। तो, कच्चे प्याज से पूरी तरह परहेज करके आप एसिडिटी से राहत पा सकते हैं।


4. एसिडिटी दूर करने का उपाय अदरक

एसिड भाटा के लिए घरेलू उपचार अपने विभिन्न पाचन और विरोधी भड़काऊ गुणों के साथ, अदरक को एसिड भाटा के लिए सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक माना जा सकता है। आप अपने खाना पकाने में अदरक का उपयोग कर सकते हैं या आप केवल ताजा अदरक का एक टुकड़ा चबा सकते हैं। इसके अलावा, आप इसे एक गिलास पानी में उबाल कर आधा गिलास कर सकते हैं और फिर पानी पी सकते हैं। यह एक सहायक नाराज़गी इलाज के रूप में कार्य कर सकता है।


5. एसिडिटी दूर करने का उपाय पुदीने की पत्तियां

अम्लता और नाराज़गी से राहत आमतौर पर पुदीना के रूप में जाना जाता है, पुदीने के पत्तों को भी पाचन गुणों के लिए जाना जाता है और यह प्राकृतिक शीतलन एजेंट के रूप में भी कार्य कर सकता है। यह आपको एसिडिटी और नाराज़गी से उचित राहत दिलाने में मदद करता है। एक कप पुदीने की चाय एसिड रिफ्लक्स के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक उपचार के रूप में काम करती है। इसके अलावा, आप पुदीने की पत्तियों को उबालकर उसका पानी पी सकते हैं। एसिडिटी से राहत दिलाने वाली पत्तियों की बात करें तो आप भी ट्राई कर सकती हैं


6. एसिडिटी दूर करने का उपाय तुलसी के पत्ते

एसिडिटी से राहत तुलसी के रूप में भी जाना जाता है, ये पत्ते हमारे पेट में श्लेष्मा पैदा करने में मदद करते हैं। यह नाराज़गी से राहत देता है जबकि पत्तियां पेट की परत को भी शांत कर सकती हैं। आप बस 2-3 तुलसी के पत्तों को चबा सकते हैं या उन्हें पानी में उबाल कर पी सकते हैं एसिडिटी से तुरंत राहत पाने के लिए।

इसे भी पढ़ लीजिए:Benefits And Side Effect of Jolly Tulsi 51 in Hindi

7. एसिडिटी दूर करने का उपाय छाछ

एसिडिटी से राहत आपका सामान्य छाछ या "छास" भी एसिड रिफ्लक्स और नाराज़गी के लिए सबसे उपयोगी घरेलू उपचारों में से एक है। इसमें लैक्टिक एसिड होता है जो आपके पेट में एसिडिटी को सामान्य करने में मदद करता है। एसिडिटी से राहत पाने के लिए आप किसी भी भारी भोजन के बाद एक गिलास छाछ पी सकते हैं।


8. एसिडिटी दूर करने का उपाय च्यू गम

एसिडिटी से छुटकारा हां, कुछ अध्ययनों के अनुसार, च्युइंग गम वास्तव में एसिडिटी से राहत दिला सकता है। च्युइंग गम लार के उत्पादन में वृद्धि की ओर जाता है, जो अन्नप्रणाली में अम्लता से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है।


9. एसिडिटी दूर करने का उपाय सेब का सिरका

एसिडिटी के लिए घरेलू उपचार एप्पल साइडर विनेगर एसिडिटी के लिए सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है। बस एक कप पानी में 1-2 चम्मच कच्चा सेब का सिरका मिलाएं और इसे दिन में एक या दो बार पिएं। नाराज़गी से राहत के अलावा, सेब साइडर सिरका के कई अन्य स्वास्थ्य लाभ भी हैं।


10. एसिडिटी दूर करने का उपाय केले

एसिडिटी से राहत कब्ज के प्राकृतिक उपचारों में से एक होने के अलावा, केला एसिडिटी से भी राहत दिलाता है। इनमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है और पोटेशियम से भी भरपूर होते हैं। वे पाचन तंत्र के लिए विभिन्न लाभ प्रदान करते हैं और अम्लता के लिए प्रभावी घरेलू उपचार के रूप में कार्य करते हैं। साथ ही, केला और भी अधिक प्रभावी हो सकता है जब इसके साथ लिया जाए


11. एसिडिटी दूर करने का उपाय कच्चे बादाम

एसिडिटी से राहत हां। चूंकि वे प्राकृतिक तेलों से भरपूर होते हैं, बादाम आपके पेट पर सुखदायक प्रभाव डालते हैं। जबकि कच्चे बादाम पाचन प्रक्रिया में मदद करने के लिए जाने जाते हैं, बादाम का दूध आपके पेट को अच्छे स्वास्थ्य में रख सकता है और एसिडिटी से राहत दिला सकता है।


12. एसिडिटी दूर करने का उपाय गुड़

नाराज़गी के लिए घरेलू उपाय नाराज़गी और एसिड भाटा के लिए एक और सहायक घरेलू उपाय गुड़ है। यह पाचन प्रक्रिया में मदद करता है और एसिडिटी से राहत देता है। यह आपके पेट पर भी ठंडा प्रभाव डालता है। अपने भारी भोजन के बाद गुड़ का एक छोटा टुकड़ा लेना एसिड भाटा के लिए सबसे उपयोगी घरेलू उपचारों में से एक है।


13. एसिडिटी दूर करने का उपाय तरबूज़ का रस

नाराज़गी के प्राकृतिक उपचार तरबूज गर्मियों के दौरान शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए जाने जाते हैं। तो, तरबूज का रस भी नाराज़गी के प्राकृतिक उपचारों में से एक के रूप में कार्य करता है। एसिडिटी से राहत पाने के लिए आप नाश्ते के साथ एक गिलास तरबूज का जूस पी सकते हैं।

इसे भी पढ़ लीजिए: लीवर खराब होने के लक्षण

14. एसिडिटी दूर करने का उपाय कार्बोनेटेड पेय पदार्थ लेने से बचें

एसिड भाटा के लक्षण शीतल पेय या कार्बोनेटेड पेय एसिड भाटा के लक्षणों को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। इसका प्रमुख कारण कार्बोनेटेड पेय पदार्थों में मौजूद कार्बन डाइऑक्साइड गैस है। इसलिए, शीतल पेय का सेवन कम करने से एसिडिटी से राहत मिल सकती है।


15. एसिडिटी दूर करने का उपाय ज्यादा चॉकलेट खाने से बचें

एसिडिटी से छुटकारा चॉकलेट पेय पदार्थ अन्नप्रणाली में एसिड की मात्रा को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। तो, हम हमेशा अपने बच्चों को सलाह देते हैं - बहुत अधिक चॉकलेट न खाएं - अब हमें एसिडिटी से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है।


16. एसिडिटी दूर करने का उपाय कॉफी कम पिएं

नाराज़गी का इलाज कॉफी की अधिक खपत एसिड भाटा और नाराज़गी के प्रभाव को खराब करने के लिए जानी जाती है। तो, अपने कॉफी का सेवन कम करना एक प्रभावी नाराज़गी इलाज के रूप में कार्य कर सकता है।


17. एसिडिटी दूर करने का उपाय सोने के 3 घंटे के भीतर खाने से बचें

एसिड रिफ्लक्स के लक्षण सोने के समय के बहुत करीब भारी भोजन करने से पाचन तंत्र प्रभावित होता है। आपके शरीर को भोजन को पचाने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिलता है जिससे अक्सर एसिड रिफ्लक्स के लक्षण बढ़ जाते हैं।


18. एसिडिटी दूर करने का उपाय एलोवेरा जूस

नाराज़गी से राहत के घरेलू उपचार एलोवेरा आपको स्वस्थ रखता है नाराज़गी से राहत के लिए सबसे अच्छे घरेलू उपचारों में से एक है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और यह शक्तिशाली विटामिन से भी भरा होता है। आप एलोवेरा के पत्तों से गूदा निकाल सकते हैं, इसे पानी में मिला सकते हैं और इसे दिन में 2-3 बार लेने से प्रभावी नाराज़गी से राहत मिलती है।

इसे भी पढ़ लीजिए: Adrak Aur Shahad Ke Fayde in Hindi

19. एसिडिटी दूर करने का उपाय अनानास का रस

एसिडिटी से तुरंत राहत लंबे समय से अनानास के जूस को एसिडिटी के लिए सबसे असरदार घरेलू उपचारों में से एक माना जाता रहा है। भारी भोजन के बाद एक गिलास अनानास का रस एसिडिटी से तुरंत राहत दिलाने में मदद करता है। हालाँकि, उपरोक्त सभी प्राकृतिक उपचार एसिडिटी के लिए मददगार नहीं हो सकते हैं, यदि आप अपने स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रखते हैं। और, उसके लिए, आपको चाहिए।

इसे भी पढ़ लीजिए: Stree Dhatu Rog Ka Gharelu Upchar

20. एसिडिटी दूर करने का उपाय व्यायाम

एसिड रिफ्लक्स के लिए प्राकृतिक उपचार उचित शारीरिक व्यायाम की कमी के परिणामस्वरूप वसा का अत्यधिक जमाव होता है, विशेष रूप से आपके उदर क्षेत्र में। यह पेट के एसिड को आपके अन्नप्रणाली में धकेलता है और नाराज़गी को बढ़ाता है। नियमित रूप से व्यायाम करना और खुद को शारीरिक रूप से फिट रखना एसिड रिफ्लक्स के लिए सबसे अच्छे प्राकृतिक उपचारों में से एक है।

Post a Comment

To be published, comments must be reviewed by the administrator *

Previous Post Next Post